डेनमार्क
    कोरोना वायरस महामारी के बीच शीर्ष टीमों के नाम वापस लेने के कारण विश्व बैडमिंटन महासंघ (BWF) ने डेनमार्क में होने वाले थॉमस और उबेर कप टूर्नामेंट मंगलवार को अगले साल तक के लिए स्थगित कर दिए. भारत ने तीन से 11 अक्टूबर तक डेनमार्क के आरहस में होने वाले टूर्नामेंट के लिए महिला और पुरुष दोनों टीमों की घोषणा कर दी थी.

कोरोना महामारी के कारण हालांकि थाईलैंड, ऑस्ट्रेलिया, चीनी ताइपे और अल्जीरिया के बाद शुक्रवार को इंडोनेशिया और दक्षिण कोरिया ने भी नाम वापस ले लिया, जिसकी वजह से बीडब्ल्यूएफ ने रविवार को आपात वर्चुअल बैठक बुलाई.

महासंघ ने एक बयान में कहा ,‘बैडमिंटन विश्व महासंघ मेजबान बैडमिंटन डेनमार्क की सहमति से थॉमस और उबेर कप 2020 स्थगित करने का कठिन फैसला ले रहा है.’

इसमें कहा गया ,‘कई प्रतियोगी टीमों के नाम वापिस लेने के कारण यह फैसला किया गया है. संशोधित बीडब्ल्यूएफ विश्व टूर के यूरोपीय चरण के कारण अब इसके लिए 2021 से पहले वैकल्पिक कार्यक्रम बनाना भी मुश्किल है,’

बीडब्ल्यूएफ ने सिंगापुर और हांगकांग को शामिल करने की कोशिश की, लेकिन उन्होंने इनकार कर दिया. ऐसी खबरें हैं कि चीन और जापान भी नाम वापिस लेने की सोच रहे थे.

भारत की स्टार खिलाड़ी साइना नेहवाल ने भी ऐसे समय में टूर्नामेंट के आयोजन पर चिंता जताई थी. साइना और पीवी सिंधु महिला टीम की अगुवाई कर रहे थे, जबकि पुरुष टीम में दुनिया के पूर्व नंबर एक खिलाड़ी किदांबी श्रीकांत शामिल थे.

बीडब्ल्यूएफ ने यह भी कहा कि डेनमार्क ओपन पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार 13 से 18 अक्टूबर तक ओडेंसे में होगा, लेकिन 20 से 25 अक्टूबर तक होने वाला विक्टर डेनमार्क मास्टर्स रद्द कर दिया गया है.

संशोधित कैलेंडर में बीडब्ल्यूफ ने नवंबर में एचएसबीसी विश्व टूर फाइनल के अलावा एशिया में दो सुपर 1000 टूर्नामेंट कराने का भी फैसला किया है. रिपोर्ट्स के अनुसार बीडब्ल्यूएफ इंडोनिशया में तीनों टूर्नामेंट कराना चाहता है, लेकिन इंडोनेशिया ने कोरोना महामारी के कारण इरादा बदल दिया.

थॉमस और उबेर कप के जरिए मार्च के बाद अंतरराष्ट्रीय बैडमिंटन की बहाली होनी थी, लेकिन बीडब्ल्यूएफ ने स्वीकार किया कि मौजूदा हालात में उच्च स्तर का टूर्नामेंट करा पाना संभव नहीं है और इसी वजह से टूर्नामेंट स्थगित करने का फैसला लिया गया.

Source : Agency