लंदन
विश्व फुटबॉल की नियामक संस्था फीफा ने वैश्विक महामारी कोविड-19 के कारण 2019-2022 के लिए संशोधित बजट जारी किया है और इस अवधि में उसके राजस्व में 12 करोड़ डॉलर की गिरावट आ सकती है। फीफा कांग्रेस ने शुक्रवार को इस बजट को मंजूरी दे दी है। फीफा की 70वीं कांग्रेस अपने इतिहास में पहली बार वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिए शुक्रवार को आयोजित हुई और सभी 211 सदस्यों ने इसमें भाग लिया। फीफा ने 2019-2022 के लिए संशोधित राजस्व बजट पेश किया है जिसमें बजट 6.56 अरब डॉलर से घटाकर 6.44 अरब डॉलर कर दिया गया है।

फीफा ने बताया कि 12 करोड़ डॉलर की गिरावट कोरोना के असर को प्रतिबिंबित करती है, लेकिन फीफा ने साथ ही इस बात पर भी जोर दिया कि 2019-22 के लिए फुटबाल में निवेश में कोई बदलाव नहीं होगा। केवल कम राजस्व की भरपाई के लिए व्यय बजट में कटौती की जाएगी। वहीं फीफा के अध्यक्ष जियानी इनफेंटिनो ने संकट की इस घड़ी में फुटबॉल समुदाय को अपना समर्थन देने का वादा किया है। उन्होंने कहा कि हम चीजों को जल्दी और निणार्यक रूप से संभालने में सक्षम रहे हैं। हमने 1.5 अरब डॉलर के वैश्विक मूल्य के लिए कोविड-19 राहत योजना तैयार की है जो अपने आप में अभूतपूर्व है। इस योजना को जून में मंजूरी मिलने के बाद फीफा को 150 सदस्यों से मदद मांगने के लिए आवेदन प्राप्त हुए हैं।

फीफा अध्यक्ष ने कहा कि फीफा संकट का सामना नहीं कर रहा है लेकिन फुटबॉल इस समय संकट से जरूर जूझ रहा है। वित्तीय मदद वहां पहुंच रही है जहां उसे पहुंचना चाहिए। इनफेंटिनो ने हाल ही में शुरू किए गए फीफा महिला विकास कार्यक्रम और मौजूदा चार साल के चक्र पर एक अरब डॉलर के निवेश के माध्यम से फीफा की महिला फुटबॉल की प्राथमिकता को दोहराया। इसके अलावा फीफा कांग्रेस ने राष्ट्रीय टीमों को बदलने वाले खिलाड़ियों से संबंधित संशोधनों को भी मंजूरी दे दी है।

Source : Agency