सतना
एमपी के सतना जिले में एक डॉक्टर ने खौफनाक वारदात को अंजाम दिया है। क्लिनिक में काम करने वाली युवती को पहले डॉक्टर ने अपने प्यार में फंसाया। उसके बाद जब युवती शादी के लिए उसके ऊपर दबाव बनाने लगी तो वह भड़क गया। उसके बाद क्लिनिक में ही युवती का गला दबा दिया है। मौका मिलते ही क्लिनिक के पास स्थित एक गली में युवती को दफना दिया और परिजनों को 2 महीने तक टरकाता रहा है।

डॉक्टर के क्लिनिक में काम करने वाली युवती विभा केवट 14 दिसंबर 2020 के बाद से लापता थी। युवती के बारे में जब उसके परिजन डॉक्टर से लगातार पूछ रहे थे, लेकिन वह कहता था कि वह बाहर काम करने गई है। उसके बाद परिजनों ने कोतवाली थाने में गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज करवाई थी। रिपोर्ट दर्ज होने के बाद पुलिस ने डॉक्टर से पूछताछ शुरू की तो पूरे मामले पर से पर्दा हटा है।

दरअसल, धावरी इलाके स्थित डॉक्टर आशुतोष त्रिपाठी की क्लिनिक में काम करने वाली युवती विभा केवट 14 दिसंबर 2020 से लापता थी। 14 दिसंबर की रात को जब युवती अपने घर नहीं पहुंची तो अगले दिन परिजन डॉक्टर के क्लीनिक पहुंचे डॉक्टर ने काम से बाहर जाने की बात कह कर परिजनों को वापस कर दिया। यह सिलसिला कई दिनों तक चलता रहा, लेकिन काफी समय बीत जाने के बाद भी युवती का कुछ पता नहीं चला तो परिवार के लोगों ने पुलिस को सूचना दी।

रिपोर्ट दर्ज होने के बाद पुलिस ने मामले की जांच शुरू की तो डॉक्टर पुलिसकर्मियों को भी बरगलता रहा। उसके बाद पुलिस ने डॉ आशुतोष त्रिपाठी का कॉल डिटेल निकाला, जिससे पता चला कि युवती ने आखिरी बार डॉक्टर से ही बात की है। उसके बाद पुलिस ने डॉक्टर आशुतोष त्रिपाठी को हिरासत में लेकर सख्ती से पूछताछ शुरू की।

पूछताछ के दौरान यह बात सामने आई कि युवती और डॉक्टर के बीच प्रेम संबंध था। इसकी वजह से युवती लगातार डॉक्टर के ऊपर शादी के लिए दबाव बना रही थी। 14 दिसंबर को भी दोनों के बीच शादी को लेकर बहस हुई। उसके बाद डॉक्टर आशुतोष ने क्लिनिक में ही विभा का गला दबा दिया, जिससे उसकी मौत हो गई।

डॉक्टर ने विभा की हत्या कर क्लिनिक के बगल में स्थित एक गड्ढे में उसे दफना दिया था। आरोपी की निशानदेही पर पुलिस ने गड्ढे से युवती के कंकाल को बरामद कर लिया है। सतना सीएसपी विजय सिंह ने बताया कि दोनों के बीच प्रेम संबंध था। युवती लगातार उस पर शादी के लिए दबाव बना रही थी। उसके बाद डॉक्टर ने उसकी हत्या कर दी। आरोपी डॉक्टर को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया है।

Source : Agency