मियामी
दुनिया की नंबर एक महिला टेनिस खिलाड़ी ऐश बार्टी ने शनिवार को बियांका आंद्रेस्क्यू के मुकाबले के बीच से हटने पर मियामी ओपन टेनिस टूर्नामेंट में लगातार दूसरा खिताब जीता। ऑस्ट्रेलिया की बार्टी जब 6-3, 4-0 से आगे चल रही थीं तब बियांका ने पैर की चोट के कारण मुकाबले से हटने का फैसला किया। रविवार को इटली के 19 साल के यानिक सिनर टूर्नामेंट के इतिहास का सबसे युवा चैंपियन बनने का प्रयास करेंगे। उन्हें फाइनल में पोलैंड के 26वें वरीय ह्यूबर्ट हुरकाज से भिड़ना है। दोनों ही खिलाड़ी अपने करियर का सबसे बड़ा खिताब जीतने के इरादे से उतरेंगे।

बार्टी ने इससे पहले फरवरी महीने में कोरोना काल के दौरान अपना पहला प्रतिस्पर्धी टूर्नामेंट जीता था, जहां उन्होंने मेलबर्न में यर्रा वैली क्लासिक टूर्नामेंट का खिताब जीता। बार्टी ने उस समय फाइनल में छठी वरीयता प्राप्त गरबाइन मुगुरुजा को 7-6 (3), 6-4 से हराकर अपनी घरेलू धरती पर दूसरा डब्ल्यूटीए खिताब जीता था। कोरोना वायरस महामारी फैलने के बाद से बार्टी ऑस्ट्रेलिया से बाहर नहीं निकली। उन्होंने यूएस ओपन में भाग लेने या फ्रेंच ओपन में खिताब का बचाव करने के बजाय स्वदेश में अभ्यास में समय बिताया था।

Source : Agency