रायपुर। कभी नक्सलियों के गढ़ रहे बस्तर और जगदलपुर के इलाके से अब फुटबाल के खिलाड़ी तैयार होंगे। दरअसल, मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की पहल पर छत्तीसगढ़ में खेलों के विकास के लिए खेल एवं युवा कल्याण विभाग ने एक और बड़ी उपलब्धि हासिल की है। केंद्र सरकार ने बस्तर जिला मुख्यालय जगदलपुर में पांच करोड़ की लागत से सिंथेटिक टर्फ फुटबाल ग्राउंड के साथ खिलाड़ियों के लिए रनिंग ट्रैक की स्वीकृति प्रदान की है।

जगदलपुर में सिंथेटिक टर्फ फुटबाल मैदान बन जाने से बस्तर की खेल प्रतिभाओं को आगे बढ़ने का सुनहरा अवसर मिलेगा। गौरतलब है कि प्रदेश में खेलों को बढ़ावा देने और खेल अधोसंरचनाओं के विकास के लिए मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के नेतृत्व में खेलबो-जीतबो-गढ़बो नवा छत्तीसगढ़ की परिकल्पना को तेजी से साकार किया जा रहा है।

खेल एवं युवा कल्याण संचालनालय ने खेलो इंडिया योजना के तहत जगदलपुर बस्तर में सिंथेटिक फुटबाल ग्राउंड और रनिंग ट्रैक निर्माण का प्रस्ताव भारत सरकार को प्रेषित किया था। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के विशेष प्रयासों से भारत सरकार ने जगदलपुर में पांच करोड़ रुपए के सिंथेटिक फुटबाल टर्फ ग्राउंड के साथ खिलाड़ियों के लिए रनिंग ट्रैक के निर्माण की प्रशासकीय स्वीकृति 18 दिसंबर 2020 को जारी कर दी है।

इसके लिए मुख्यमंत्री भूपेश बघेल एवं खेल मंत्री उमेश पटेल ने हर्ष व्यक्त करते हुए खेल विभाग के सभी अधिकारियों एवं कर्मचारियों को बधाई दी है। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा कि बस्तर क्षेत्र के खिलाड़ियों के लिए अधिक से अधिक खेल सुविधाएं उपलब्ध कराई जाएंगी। बस्तर के युवा अब खेलों में अग्रणी होंगे।

Source : www.jannewslive.com