रायपुर। छत्तीसगढ़ में विधानसभा के शीतकालीन सत्र के तीसरे दिन सरकार बस्तर स्थित नगरनार स्टील प्लांट के निजीकरण के विरोध में शासकीय संकल्प पेश करेगी। सरकार की तरफ से यह संकल्प उद्योग मंत्री कवासी लखमा सदन पटल पर रखेंगे। इसमें सदन की तरफ से केंद्र सरकार से आग्रह किया जाएगा कि वह प्लांट का निजीकरण न करे।

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल बुधवार को ही सदन में चालू वित्तीय वर्ष का दूसरा अनुपूरक बजट पेश करेंगे। अनुपूरक बजट मंगलवार को ही पेश होना था, लेकिन सदन स्थगित होने के कारण अब बुधवार को पेश किया जाएगा। सदन में बुधवार को प्रश्नकाल में पीडब्ल्यूडी, गृह, खाद्य और नगरीय प्रशासन विभाग से जुड़े सवाल होंगे। वहीं, कोरोना वायरस की वजह से प्रदेश में हुई मौतों का मामला भी सदन में उठेगा। इसको लेकर प्रमुख विपक्षी पार्टी भाजपा के सदस्यों ने ध्यानाकर्षण की सूचना दी है। बता दें कि सोमवार से शुरू हुए शीतकालीन सत्र में अब तक दोनों दिन सदन की कार्यवाही पूरे दिन नहीं चल पाई है। सोमवार को विपक्षी सदस्यों के निलंबन के बाद सदन की कार्यवाही दिनभर के लिए स्थगित कर दी गई थी। वहीं, मंगलवार को कांग्रेस के वरिष्ठ नेता मोतीलाल वोरा को श्रद्धांजलि के बाद सदन की कार्यवाही पूरे दिन के लिए स्थगित कर दी गई।

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने बुधवार को अपना दरंभगा (बिहार) दौरा रद कर दिया है। सीएम वहां नारेंद्र झा महिला महाविद्यालय में आयोजित डा. नागेंद्र झा की प्रतिमा अनावरण कार्यक्रम में शामिल होने वाले थे। कार्यक्रम का आयोजन बिहार कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष मदनमोहन झा ने किया है।

Source : www.jannewslive.com