कप्तान जो रूट बने प्लेयर ऑफ द मंथ,वुमेंस कैटेगरी में एमियर रिचर्डसन को चुना

    नई दिल्ली

अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट काउंसिल (आईसीसी) ने अगस्त महीने का बेस्ट प्लेयर का ऐलान सोमवार को कर दिया है. इंग्लैंड के कप्तान जो रूट को प्लेअर ऑफ द मंथ चुना गया है. रूट ने भारत के खिलाफ टेस्ट सीरीज में रनों का अंबार लगाया था. उन्होंने सीरीज में तीन शतक जड़े थे.

रूट ने टीम इंडिया के तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह और पाकिस्तान के बॉलर शाहीन आफरीदी को पीछे छोड़ते हुए प्लेयर ऑफ द मंथ का अवॉर्ड अपने नाम किया. इंग्लैंड के कप्तान ने 4 टेस्ट मैचों की 7 पारियों में 94.00 की औसत से 564 रन बनाए थे. इस सीरीज में बुमराह ने भी अपनी गेंदबाजी से खासा प्रभावित किया था और वह 18 विकेट चटकाने में सफल रहे थे.

रूट ने लॉर्ड्स टेस्ट में टीम इंडिया के खिलाफ 180 रनों की लाजवाब पारी खेली थी और नाबाद रहे थे. वहीं, इंग्लिश कप्तान ने ट्रेंट ब्रिज और लीड्स में भी सेंचुरी ठोकी थी. रूट की टक्कर दुनिया के दो दमदार तेज गेंदबाजों से थी, जिनको वह पछाड़ने में सफल रहे. आफरीदी ने वेस्टइंडीज के खिलाफ दो टेस्ट मैचों में 18 विकेट चटकाए थे. दूसरे टेस्ट में उन्होंने दस विकेट अपने नाम किए थे और यह कारनामा करने वाले पाकिस्तान के चौथे सबसे युवा गेंदबाज बने.

आईसीसी वोटिंग एकेडमी के पैनलिस्ट और दक्षिण अफ्रीका के पूर्व ऑलराउंडर जेपी डुमिनी ने रूट को लेकर कहा, 'एक कप्तान के तौर पर जो रूट के ऊपर काफी जिम्मेदारी थी और उनसे उम्मीदें भी काफी ज्यादा थीं. जिस तरह से उन्होंने बल्ले से अपना योगदान दिया उससे मैं काफी प्रभावित हुआ. वो आईसीसी टेस्ट रैंकिंग में नंबर वन भी बने.'

एमियर रिचर्डसन को वुमेंस कैटेगरी में चुना गया प्लेयर ऑफ द मंथ

वहीं, आयरलैंड की दिग्गज महिला खिलाड़ी एमियर रिचर्डसन को वुमेंस कैटेगरी में प्लेयर ऑफ द मंथ चुना गया है. रिचर्डसन ने आईसीसी वुमेंस टी20 वर्ल्ड कप यूरोप क्वालीफायर में पिछले महीने शानदार प्रदर्शन किया था.

एमियर ने टूर्नामेंट में 4.19 की इकॉनमी रेट से कुल सात विकेट चटकाए और जर्मनी, स्कॉटलैंड, फ्रांस और नीदरलैंड जैसी टीमों के खिलाफ बेहतरीन प्रदर्शन किया. बल्ले से भी उनका योगदान काफी अहम रहा. नीदरलैंड के खिलाफ फाइनल मुकाबले में उन्होंने 49 गेंद पर 53 रनों की पारी खेली थी और टूर्नामेंट में कुल मिलाकर 76 रन बनाए.