देश

सांवरिया सेठ के खजाने में बरस रहा धन, पहले दिन की गिनती में 12 करोड़ रुपए से अधिक का धन निकला

जयपुर
 राजस्थान के प्रसिद्ध कृष्ण धाम भगवान सांवरिया सेठ के भंडार में एक बार फिर अकूत खजाना निकला है। इस दौरान सोमवार को भंडार कक्ष में चढ़ावे की गिनती का आंकड़ा 4 करोड़ 35 लाख रुपए तक पहुंच गया। मंदिर में दो चरणों की गिनती में यह आंकड़ा 12 करोड़ के पार हो गया है। भंडार कक्ष में श्रद्धालुओं की ओर से चढ़ाई गई नकदी और आभूषण की गिनती अभी दो-तीन दिन और चलेगी। बता दें कि सांवरिया सेठ के भक्त मंदिर में दिल खोलकर चढ़ावा राशि भेंट करते हैं। इनमें कई ऐसे भक्त हैं, जो गुप्त रूप से दान करते हैं।

दो दिनों की गिनती पहुंची 12 करोड़ के पार

चित्तौड़गढ़ जिले के मंडफिया कस्बे में स्थित भगवान सांवरिया सेठ के मंदिर में हर महीने अमावस से पहले की चौदस को भंडार खोला जाता है, जहां मंदिर समिति और स्टाफ के सदस्य मिलकर पूरे महीने भर श्रद्धालुओं की ओर से चढ़ाई गई नगदी और आभूषण की गिनती करते हैं। इस दौरान रविवार को मंदिर के भंडार कक्ष की गिनती शुरू हुई। मंदिर समिति के अनुसार सोमवार को 4 करोड़ 35 लाख 40 हजार रुपए की राशि प्राप्त हुई है। इसी तरह से रविवार और सोमवार को दो दिनों तक चली गिनती में अब तक 12 करोड़ 5 लाख 81 हजार का आंकड़ा पहुंच गया है। मंदिर समिति ने बताया कि यह गिनती अगले चरणों में भी जारी रहेगी।

इतने बड़े खजाने का क्या किया जाता है?

मंदिर समिति ने बताया कि दान में मिली राशि मंदिर के मेंटेनेंस और प्रशासनिक खर्चों के साथ श्रद्धालुओं की सुविधाओं पर खर्च की जाती है। इसके अलावा चढ़ावा राशि का एक हिस्सा आसपास के 16 गांव के विकास कार्यों पर भी खर्च करने का प्रावधान है। इस राशि की गणना में मंदिर मंडल अध्यक्ष भैरूलाल गुर्जर, सदस्य संजय कुमार मंडोवरा, भेरूलाल सोनी, अशोक शर्मा, ममतेश शर्मा, शम्भू सुथार, नायब तहसीलदार घनश्याम जरवाल, सुरक्षा प्रभारी गुलाब सिंह राजपूत, हरलाल गुर्जर एवं बैंक कर्मचारी और मंदिर मंडल कर्मचारी आदि शामिल हैं।

भंडारा राशि के अंतिम चरण की गणना राजभोग आरती के बाद मंदिर मंडल के अध्यक्ष भैरूलाल गुर्जर, सीईओ एडीएम प्रशासन राकेश कुमार, मंदिर मंडल सदस्य भैरूलाल सोनी, अशोक शर्मा , श्री लाल पाटीदार, संजय कुमार मंडोवरा, शंभू लाल सुथार और ममतेश शर्मा की मौजूदगी में शुरू हुई. मंदिर मंडल सदस्य शंभू लाल सुथार के अनुसार चार राउंड में गणना का काम पूरा हुआ. आखिरी दिन 31 लाख 66 हज़ार 76 की गिनती हुई. इससे पहले के तीन राउंड में 12 करोड़ 80 लाख 15000 रुपए प्राप्त हुए थे.

भंडारा राशि का अब तक का रिकॉर्ड टूटा: इस प्रकार भंडार से 13 करोड़ 11 लाख 81 हजार 76 रुपए प्राप्त हुए. बाद में भेंट कक्षा में प्राप्त कैश और ऑनलाइन का हिसाब किताब किया गया जो 4 करोड़ 81 लाख 35899 रुपए थे. दोनों को मिलाकर 17 करोड़ 93 लाख 16975 रुपए प्राप्त हुए. उन्होंने बताया कि मंदिर के दान पत्र से 668 ग्राम सोना और 17 किलो 200 ग्राम चांदी, जबकि कार्यालय से 33 ग्राम 55 मिलीग्राम सोना, 71 किलो 500 ग्राम चांदी भी प्राप्त हुई. कुल 701 ग्राम 5 मिलीग्राम सोना और 88 किलो 7 ग्राम चांदी चढ़ावे के रुप में प्राप्त हुई. उन्होंने बताया कि एक महीने में अब तक की रिकॉर्ड चढ़ावा राशि और सोना चांदी के आभूषण निकले हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button