प्रदेशबिहार

बिहार-पूर्णिया चुनाव जीतकर भी पप्पू मांग रहे क्षमा, बीमा भारती से बदलेगा रूपौली का चुनावी गणित

पूर्णिया.

पूर्णिया की सियासत पल-पल बदल रही है। बिहार के इकलौते निर्दलीय सांसद पप्पू यादव ने जिन्हें लोकसभा चुनाव में हराया था। आज उनकी के समर्थन में आ गए हैं। इतना ही नहीं वह उनके पक्ष में वोट भी मांग रहे हैं। पूर्णिया सांसद राजेश रंजन उर्फ पप्पू यादव ने रुपौली विधानसभा उप चुनाव में महागठबंधन से राष्ट्रीय जनता दल की उम्मीदवार बीमा भारती को खुलकर समर्थन किया है। इतना ही नहीं जनता और अपने समर्थक से क्षमादान भी मांगा है। सांसद पप्पू यादव ने अर्जुन भवन कार्यालय में प्रेस वार्ता को संबोधित करते हुए राजद उम्मीदवार बीमा भारती के समर्थन का एलान किया।

सांसद पप्पू यादव ने कहा कि किसी कारण के चलते मेरी प्रत्याशी से भूल हुई हो, तो इसके लिए मैं हाथ जोड़कर क्षमा मांगता हूं। आप सभी से रूपौली की बेटी बीमा भारती के पक्ष में वोटिंग के लिए आग्रह करता हूं। जो लोग कांग्रेस, सोनिया गांधी, राहुल या फिर प्रियंका गांधी की विचारधारा को मानते हैं वह हर परिस्थिति में बीमा भारती के साथ हैं, फिर चाहे सामने कोई भी हो। वैसे लोग जो कभी कभी निर्दलीय तो कभी एनडीए के साथ रहे। वह न कभी मेरे विचारधारा से हैं और न आगे कभी होंगे।

खड़े रहकर रूपौली से विकास की शुरुआत करूंगा
उन्होंने कहा कि इस चुनाव में एनडीए के साथ हैं या फिर निर्दलीय के साथ होंगे। वह किसी भी कीमत पर पप्पू यादव के साथ नहीं हो सकते। क्योंकि हमारी आइडियोलॉजी और विचारधारा कांग्रेस की है। हमारे लोग कांग्रेस के विचारधारा के साथ रुपौली में पूरी मजबूती के खड़े हैं। मैं उम्मीद करता हूं कि रुपौली कि जनता मेरे लिए हमारे प्रत्याशी की सारी गलती माफ करेगी। जनता से मैं खुद उनकी ओर हाथ जोड़कर क्षमा मांगता हूं। अगर किसी तरह की कोई गलती हुई हो महागठबंधन के कैंडिडेट से तो माफ कर दीजिएगा। आगे उन्होंने कहा वो कुछ करे न करे, जैसे ही चुनाव खत्म होगा, मैं सूद ब्याज के साथ खड़े रहकर रूपौली से विकास की शुरुआत करूंगा। ये खुद आपसे आपके सांसद पप्पू यादव का वादा है। आप मेरे लिए एक बार रूपौली की बेटी के साथ खड़ा रहिएगा।

समर्थन देने के बाद रूपौली की चुनावी गणित बदल सकती है
बता दे पूर्णिया सांसद पप्पू यादव के द्वारा बीमा भारती को समर्थन देने के बाद रूपौली की चुनावी गणित बदल सकती है। अब सांसद पप्पू यादव के समर्थन के बाद बीमा भारती के कैडर वोटर गंगोता के के साथ साथ यादव और मुस्लिम वोटर सीधे तौर पर बीमा भारती की ओर शिफ्ट होते दिख रहे हैं। इससे न सिर्फ एनडीए प्रत्याशी कलाधर मंडल बल्कि पूर्व विधायक और निर्दलीय प्रत्याशी शंकर सिंह का रास्ता मुश्किल हो सकती है। साथ ही बीमा भारती सभी पर भारी पड़ सकती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button